गुरुवार, 16 फ़रवरी 2017

राजस्थान सम्पर्क पोर्टल पर अपनी शिकायत कैसे दर्ज कराये

राजस्थान सम्पर्क जन सामान्य की शिकायतों को दर्ज करने और समस्याओं का निराकरण पाने का अभिनव प्रयास है | 

मैं राजस्थान सम्पर्क पोर्टल पर अपनी शिकायत कैसे और कहा से दर्ज कराउ ?
निशुल्क करवाने के 3 तरीके है
1. ऑनलाइन शिकायत दर्ज करना वेब पोर्टल पर Http://www.sampark.rajasthan.gov.in 
2 . पंचायत समिति एवं जिला स्तर पर राजस्थान सम्पर्क केन्द्रों पर निः शुल्क रूप से शिकायतों को दर्ज कराने की सुविधा |
3 . सिटीजन कॉल सेंटर (18001806127) पर फ़ोन के माध्यम से शिकायतों को दर्ज कराने व् उसकी सूचना प्राप्त करने की निः शुल्क सुविधा |
पेड सर्विस
4. ई मित्र कीओस्क द्वारा शिकायत दर्ज करवाना

1- ऑनलाइन शिकायत दर्ज करना - या इसे ये कहे कि वेब पोर्टल पर सीधे शिकायत डालना, इसके लिए आपको सबसे पहले राजस्थान संपर्क को किसी वेब ब्राउज़र में खोलना होगा जैसे गूगल क्रोम और उसके एड्रेस बार में आपको Http://www.sampark.rajasthan.gov.in  या आप गूगल में राजस्थान संपर्क सर्च करके भी इस वेब साईट को खोल सकते हैl
राजस्थान सम्पर्क पोर्टल की वेब साईट एक नज़र 
Home Page of Rajasthan Sampark Website
Rajasthan Sampark Portal 
 2- राजस्थान संपर्क पोर्टल पर शिकायत दर्ज करने के लिए ऊपर दिखाये गए चित्र में बताये गए स्थान या शिकायत दर्ज करे पर क्लिक करे l  क्लिक करने के उपरांत
Register Grievance पर क्लिक करे  
शिकायत दर्ज कराने से पूर्व निम्न बातों का ध्यान रखे 
 1 सूचना यथासम्भव पूर्ण किन्तु बिंदुवार लिखे |
 2 अपना मोबाइल न. (भरना अनिवार्य है इसके अभाव में आपके व्यक्तिशः शिकायत दर्ज नही करा पाएंगे)  / फ़ोन न. / पहचान न.  अवश्य भरे, ताकि आपको एस. एम्.एस. से सूचित किया जा सके |
 3 यदि पूर्व में आपने उसी शिकायत के सन्दर्भ में शिकायत दर्ज करवाई है तो उसका सन्दर्भ अवश्य दे |
 4 न्यायिक रूप से विचाराधीन वादो को दर्ज करने से बचे क्यों की इन पर विभाग द्वारा कोई कार्यवाई नहीं की जा सकती और आपकी शिकायत निरस्त कर दी जाएगी  |
 5 अपने परिवाद की श्रेणी अवश्य दर्ज करें जैसे समस्या निजी है, या सार्वजानिक है या राजकीय कर्मचारी की है |
 6 अपने परिवाद का शिकायत संख्या का आगे सन्दर्भ हेतु ध्यान रखें  |
 7 गलत शिकायत दर्ज करने पर परिवादी स्वयं उत्तरदायी होगा |
 8 दस्तावेज Output Resolution(ppi)  150 पर स्कैन करें क्यों की इस से कम डीपीई के दस्तावेज की गुणवत्ता अच्छी नही होती और हो सकता है आपकी शिकायत के सारे तथ्यों का निदान ना हो   |

Register Grievance पर क्लिक करने के बाद निम्न स्क्रीन आपके सामने होगी 
मोबाइल नो वाले कॉलम में अपने मोबाइल नो दर्ज करे व Send otp to Verify पर क्लिक करे आपके द्वारा दर्ज कराये गए मोबाइल नो पर एक मैसेज प्राप्त होगा जिसमे 4 अंको का कोड होगा जिसे डालना होगा उसके बाद ही आप आगे की जानकारी भर पाएंगे
कंप्लेंट नाम में शिकायतकर्ता अपना नाम लिखे,
Grievance Description - में शिकायतकर्ता अपनी शिकायत के बारे में लिखे, शिकायतकर्ता ध्यान रखे की जो शिकायतकर्ता की मूल शिकायत है उसकी सूचना बिंदुवार हो ताकी आपकी शिकायत के सभी बिन्दुओ का निस्तारण हो सके
How  Long You are facing this problem - यहाँ शिकायतकर्ता को यह बताना आवश्यक है की जो उसकी शिकायत है वो कितने दिनों से है जैसे शिकायतकर्ता ने पानी के नए कनेक्शन के लिए आवेदन किया और विभाग द्वारा नियत समयावधि में उसे कनेक्शन जारी नही किया तो जिस दिन उसने आवेदन किया उस दिन से आज दिन तक की अवधि को जोड़ते हुए शिकायत दर्ज करावे
Upload Document - शिकायत के आधार के बतौर आप डॉक्यूमेंट अपलोड करे ( ध्यान रखे यदि विभाग में कार्यवाई के लिए कोई फाइल पेंडिंग है तो उसकी रसीद आवश्यक रूप से अपलोड करे l
Need Help in Grievance Registration? - यहाँ आप किसी एक बिंदु का चयन करे १- पहले  बिंदु का  चयन करने पर  आपकी राजस्थान संपर्क पोर्टल से आपके द्वारा रजिस्टर्ड मोबाइल नो पर कॉल आएगा और साड़ी प्रकिर्या फ़ोन कॉल द्वारा संपन्न की जाएगी
२ - दूसरे बिंदु का चयन करने पर आप विस्तृत रूप से शिकायत अपलोड कर पाएंगे 

बुधवार, 1 फ़रवरी 2017

अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड संपर्क सूची

अपने क्षेत्र के अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के AEN, XEN और अन्य उचाधिकारियों से संपर्क करे
अजमेर विद्युत वितरण निगम के टोल फ्री हेल्प लाइन नो. 1800-180-6565 या 1912 या 1800-180-6531




नावा अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड
एइन के मोबाइल नो. 9413391696 शिकायत हेतु दूरभाष नो 01586-262745

आम बजट 2017 एक नज़र

आज सुबह 11 बजे वित्त मंत्री अरुण जेटली केंद्रीय बजट पेश करेंगे

1- बजट 2017-2018 में भारतीय रेल कि IRCTC वेबसाइट से होने वाली ट्रेन टिकेट बुकिंग पर से ऑनलाइन बुकिंग चार्जेज हटा लिए गए है l ई टिकट पर सर्विस चार्ज खत्म कर दिया गया है

2- बजट 2017-2018 में नौकरशाहों / आम टैक्स पेयर के लिए अच्छी खबर अब टैक्स कि लिमिट 2.50 लाख से बढाकर 3 लाख रूपए कर दी गई है  l 2.50 - 5 लाख  कि  आय पर टैक्स 5फिसदी  किया गया
3- राजनीतिक दलों पर पैसों के लेन-देन पर लगाम लगाने हेतु नगर में रुपए लेने की सीमा 2000 की गई  इससे ज्यादा पैसे  लेने  हेतु चेक या इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर  का प्रयोग करना होगा

बजट के बारे में विस्तृत रूप से पढने के लिए क्लिक करे

facebook